Call +91 9306096828

बुध का बीज मंत्र किसे पहनना चाहिए इसका उच्चारण कैसे करना है और इस मंत्र को कैसे प्रयोग करना है। इसके क्या लाभ हैं यह सब आपको हम आज की पोस्ट में बताएंगे।

सबसे पहले वीडियो में दिए गए बुद्ध के बीज मंत्र को ध्यान से सुने। एक बिल्कुल खाली स्क्रीन पर बुध का यह मंत्र हमने लिख दिया है। आपको इस मंत्र को सुनते हुए बुध के मंत्र पर ध्यान केंद्रित करना है। इस मंत्र की आवृत्ति 108 बार की गई है हालांकि यह ज्यादा या कम हो सकती है परंतु बुध के इस मंत्र को आप प्रतिदिन 10 मिनट या अधिक 15 से 20 मिनट सुनेंगे तो इसका पूरा लाभ ले सकते हैं।

बुध मंत्र हो या कोई और मंत्र इसमें महत्वपूर्ण बात यह है कि आप इसे किस समय प्रयोग कर रहे हैं क्योंकि जिस समय आप का मन शांत और एकाग्र होगा उसी समय पर मंत्र जाप करने का फायदा होता है। इसलिए ऐसा समय सुनिश्चित करें जिस समय आप प्रतिदिन खाली रहते हैं और उस समय को एक्यूरेसी के साथ मंत्र के लिए प्रयोग में लाएं।

बुध का मंत्र कैसे पढ़ना चाहिए?

बुद्धि का कारक होने के कारण बुध आपको समझदारी देता है यदि जन्मकुंडली में बुध कमजोर है तो उसके लक्षण प्रकट होंगे। प्रथम लक्षण तो यही है कि बच्चे के दांत निकलने में देरी होगी या दांतों की समस्या बचपन से ही जातक को होगी। किसी किसी जातक को स्किन की प्रॉब्लम रहती है। यदि बुध बहुत अधिक कमजोर है तो बच्चा बहुत भोला-भाला और सीधा होता है। उसे कभी भी कोई भी मूर्ख बना सकता है अर्थात चालाकी की प्रवृत्ति नहीं होती।

आज के माहौल में हर किसी में इतनी सोच या समझ तो होनी ही चाहिए कि कोई आपका मूर्ख ना बना दे। बुध जिसका कमजोर होता है उसे हर कोई धोखा दे देता है। यदि बुध कुंडली में कमजोर है तो निर्धनता भी देगा। किसी भी कारण से यदि आपको लगे कि आपका बुध कमजोर है तो आप इस मंत्र को पढ़ सकते हैं। यदि आपको किसी ज्योतिषी ने यह मंत्र पढ़ने को कहा है तो भी आप यह मंत्र प्रयोग में ला सकते हैं।

बुध मंत्र के फायदे

बुध का मंत्र पढ़ने से आपको धीरे धीरे इतनी समझ आ जाएगी कि आप सोच सकते हैं आपका भला बुरा क्या है। जब कोई व्यक्ति किसी के बहकावे में आकर गलत रास्ते पर चल पड़ता है तब उसका बुध खराब समझना चाहिए। ऐसे जातक को बुद्ध मंत्र अवश्य करना चाहिए। बोलते वक्त हकलाना तुतलाना खराब बुध की विशेषता है इसलिए ऐसे लोग जो बोलने में हिचकिचाहट महसूस करते हैं उन्हें बुध का मंत्र अवश्य पढ़ना चाहिए

बुध का मंत्र पढ़ने से ना के बल बुद्धि का विकास होता है बल्कि इससे वाणी में भी सुधार आता है। यदि आप वाकपटु बनना चाहते हैं और यदि आप चाहते हैं कि बातों में आपसे कोई ना जीत सके तो बुध का मंत्र पढ़ें बुध का मंत्र अध्यापक वकील व्यापारी मैनेजर और अकाउंटेंट के लिए बेहद लाभदायक है। धन वृद्धि लक्ष्मी प्राप्ति और व्यापार में लाभ के लिए बुध मंत्र है।

बुध के मंत्र को प्रयोग कैसे करें

दिए गए मंत्र को हेडफोन या ईयर फोन की सहायता से कानों में लगाकर 10 से 15 मिनट सुने और एकाग्र चित्त होकर इस मंत्र पर ध्यान दें। यदि आप 10 से 15 मिनट किसी भी समय खाली रहते हैं यात्रा करते वक्त या सोते समय कभी भी आप इस मंत्र को मानसिक रूप से प्रयोग कर सकते हैं। केवल सुनने मात्र से ही इसके लाभ आपको मिलने लगेंगे। 40 दिन या अधिक समय तक प्रतिदिन 10 मिनट आप इस मंत्र को सुनें निश्चित तौर पर कुछ ही दिनों में आपको इसका असर दिखाई देगा।


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *