Call +91 9306096828

धनु राशि के लिए विवाह का राशिफल प्रस्तुत है। साल 2022 में आपकी शादी होने वाली है या नहीं इस विषय पर आज का हमारा लेख प्रस्तुत है। विवाह के लिए आवश्यक परिस्थितियां ही नहीं बल्कि अनुकूल ग्रह स्थिति का होना भी अति आवश्यक है। यदि आप की धनु राशि है और आप विवाह योग्य हैं तो अवश्य ही आप शादी का विचार कर रहे होंगे। साल 2021 का एक ही महीना बाकी है । वर्तमान ग्रह स्थिति कुछ इस प्रकार है। वृहस्पति जो आपकी राशि के स्वामी हैं कुंडली के दूसरे घर में विराजमान हैं। सनी भी यहां स्थित है इसलिए यदि आप विवाह का विचार कर रहे हैं तो दिसंबर महीना आपके लिए अच्छा सिद्ध हो सकता है आपकी शादी कहीं ना कहीं तय हो सकती है। राहु और केतु की स्थिति भी आपके लिए अनुकूल है। अब विस्तार से बात करते हैं।

GuruVedic Predictions

 

Verification

जन्म कुंडली का दूसरा घर विवाह और मांगलिक कार्यों के लिए जाना जाता है यदि शुभ ग्रह की स्थिति कुंडली के दूसरे घर में होती है तो घर में मांगलिक कार्य होते रहते हैं। अधिक शुभ ग्रहों की दूसरे घर में स्थिति से आपको अपने जीवन में अनेक प्रकार के मांगलिक कार्य करने पड़ते हैं। सौभाग्य से बार-बार जीवन में हर्ष उल्लास और उत्साह का माहौल बनता है। वर्तमान बृहस्पति कि दूसरे घर में स्थिति यही स्पष्ट कर दी है कि इस वर्ष में और अगले वर्ष में 13 अप्रैल से पहले आपके घर में मांगलिक कार्यों का आगमन होता रहेगा। इस मांगलिक कार्य में आप अपने विवाह की भी कल्पना कर सकते हैं। यदि आप विवाह के लिए विचार कर रहे हैं तो आप की शादी इसी वर्ष के अंत में या अगले वर्ष की शुरुआत में हो जाएगी। यदि यह नहीं होता है तो कम से कम आप का रिश्ता पक्का हो जाएगा। आपको जीवन साथी की तलाश है तो आप की तलाश पूरी होगी। परंतु 13 अप्रैल के पश्चात बृहस्पति मीन राशि में चौथे घर में चला जाएगा । चौथे घर का बृहस्पति शादी विवाह के लिए योग्य नहीं है। फिर भी स्वराशि में होने के कारण कुछ शुभ फल अवश्य मिलेंगे इसलिए यह कहा जा सकता है कि यदि आप विवाह करना चाहते हैं तो 13 अप्रैल से पहले का अच्छा समय देखकर आपको यह कार्य कर लेना चाहिए।

यह बृहस्पति का भविष्यफल है।

शनि के अनुसार धनु राशि का विवाह राशिफल। जैसा कि हमने बताया दूसरा घर आपके परिवार का है और दूसरे घर के अंदर होने वाली सभी प्रकार की एक्टिविटी कुंडली के दूसरे घर से देखी जाती है। वर्तमान में शनि दूसरे घर में विराजमान है इसलिए साढ़ेसाती धनु राशि पर चल रही है। शनि जहां पर 29 अप्रैल तक रहेगा पूर्णविराम इसके पश्चात सैनी का राशि परिवर्तन कुछ समय के लिए हो जाएगा कुंभ राशि में। कुंभ राशि का शनि आपको अनेक प्रकार के लाभ देगा। 2 जुलाई तक शनि आपको सफलता समृद्धि तथा मनोकामना की पूर्ति करेगा। 2 जुलाई के पश्चात एक बार फिर से शनि मकर राशि में आ जाएगा और मांगलिक कार्यों में बाधा उत्पन्न करेगा इसलिए 2 जुलाई के पश्चात विवाह का योग आपकी कुंडली में नहीं है। यह शनि का भविष्यफल है।

राहु और केतु वृषभ और वृश्चिक राशि में विराजमान हैं इसलिए आपके कुंडली के छठे घर में राहु और बारहवें घर में केतु स्थित है। राहु और केतु उल्टे चलते हैं इसलिए 13 अप्रैल के पश्चात राहु पंचम स्थान में तथा केतु 11 वे स्थान में होगा। इस समय राहु शुभ चल रहा है जो आपके लव मैरिज मैं सहायक होगा। केतु राहु के अनुसार ही कार्य करेगा। परंतु 13 अप्रैल के पश्चात राहु केतु का भविष्यफल भी बदल जाएगा और पूरे वर्ष आपको प्रभावित करेगा। यदि आपका कहीं प्रेम संबंध नहीं है और आप जीवन साथी की तलाश कर रहे हैं तो आपका यह मनोरथ सिद्ध होगा। आपको यदि जीवन साथी की तलाश है तो यह तलाश आपकी पूरी होगी और आप मजबूत प्रणय संबंधों में 13 अप्रैल के बाद होंगे। पुराने संबंध समाप्त हो सकते हैं और नए संबंध स्थापित हो सकते हैं। धनु राशि के वे लोग जो शादी के लिए प्रतीक्षा कर रहे हैं राहु और केतु उनके लिए अनुकूल है इसलिए धनु राशि के कुछ लोगों पर राहु और केतु कृपा करेंगे और अगस्त सितंबर अक्टूबर इन 3 महीनों में धनु राशि के लोगों की शादी हो सकती है।

GuruVedic Predictions

 

Verification

निष्कर्ष यही है कि यदि आप की धनु राशि से और शादी के लिए प्रतीक्षा कर रहे हैं तो अगले वर्ष में या वर्तमान समय में अधिकतर ग्रह अनुकूल है। आपके लिए अच्छी खबर है।


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *